एक डील और रॉकेट बना Yes Bank का शेयर, 20% उछला, सालभर में पैसा डबल

एक डील और रॉकेट बना Yes Bank का शेयर, 20% उछला, सालभर में पैसा डबल

Yes Bank का शेयर 8 फरवरी 2024 को चार साल बाद ₹30 के पार पहुंच गया। यह 2019 के बाद पहली बार है जब शेयर इस स्तर पर पहुंचा है। शेयर में तेजी कई कारकों से प्रेरित है, जिसमें शामिल हैं:

  • HDFC Bank द्वारा Yes Bank में 9.5% हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा।
  • RBI द्वारा Yes Bank के पुनर्गठन योजना को मंजूरी।
  • Yes Bank द्वारा अपने NPA (गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों) को कम करने के लिए किए गए प्रयास।

Yes Bank Share Price: यस बैंक के शेयर में HDFC Bank की हिस्सेदारी बढ़ाने के बाद मुद्दे

Yes Bank
Yes Bank

हाल ही में खुलासा हुआ है कि यस बैंक में HDFC Bank अपनी हिस्सेदारी बढ़ा रहा है, जिससे इसके शेयरों में लगातार ऊपरी गतिविधि देखी जा रही है। यह उसी दिशा में एक नई मुद्रा है जो बाजार में उत्साह और आत्मविश्वास को बढ़ावा देती है। चार साल बाद आज यस बैंक के शेयरों ने 30 रुपये का लेवल पार कर दिया है, जो एक महत्वपूर्ण संकेत है। पहले, यह लेवल 15 जून 2020 को इंट्रा-डे में पार किया गया था, लेकिन दिन के अंत में 29.05 रुपये पर बंद हुआ था।

Yes Bank
Yes Bank

बीएसई पर यस बैंक के शेयरों में आज 19.82% की उछाल देखी गई, जिससे यह 30.50 रुपये के अपर सर्किट पर पहुंच गया। इस मुद्रा के बावजूद, मुनाफावसूली ने इसके शेयरों पर खास प्रभाव नहीं डाला। दिन के अंत में, बीएसई पर यह 17.35% की बढ़त के साथ 29.83 रुपये के भाव पर बंद हुआ। अगर हम बंद होने के बाद के भाव की गणना करें, तो यस बैंक ने 10 जून 2020 को 30 रुपये के पार BSE पर बंद होने का अनुभव किया था, जब यह 30.45 रुपये के भाव पर बंद हुआ था।

एचडीएफसी बैंक ने अपनी हिस्सेदारी में 9.50 फीसदी की वृद्धि के लिए RBI की मंजूरी प्राप्त की है। इसके अनुसार, यस बैंक में एक साल के भीतर इसकी हिस्सेदारी 3% से बढ़ जाएगी। यस बैंक ने 6 फरवरी को एक्सचेंज फाइलिंग में इस मंजूरी का खुलासा किया, जिसके परिणामस्वरूप 6 फरवरी को इसके शेयर 11% से अधिक उछलकर बंद हुए, और आज भी यह 12% से अधिक बढ़ गया। एचडीएफसी बैंक को अपनी हिस्सेदारी एक साल के भीतर बढ़ानी है, और यदि ऐसा नहीं होता है, तो फिर से मंजूरी की जानी चाहिए।

Yes Bank
Yes Bank

Yes Bank एक साल में यस बैंक के शेयरों का चाल काफी प्रभावशाली रहा है। पिछले साल, इसकी कीमत 23 अक्टूबर 2023 को 14.10 रुपये के स्तर पर थी।

चार्ट से मिल रहे संकेत भी सकारात्मक हैं। शेयर ने 200-दिवसीय EMA (एक्स्पोनेंशियल मूविंग एवरेज) को पार कर लिया है, जो एक मजबूत बुलिश संकेत है। शेयर में RSI (रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स) भी 70 के ऊपर है, जो यह दर्शाता है कि शेयर ओवरबॉट है।

विशेषज्ञों का मानना ​​है कि Yes Bank का शेयर आने वाले दिनों में और अधिक बढ़ सकता है। ICICI Securities ने शेयर के लिए ₹35 का लक्ष्य मूल्य निर्धारित किया है। Motilal Oswal ने ₹33 का लक्ष्य मूल्य निर्धारित किया है।

Yes Bank
Yes Bank

निवेशकों को ध्यान देना चाहिए कि शेयर बाजार में हमेशा जोखिम होता है। Yes Bank का शेयर अस्थिर रहा है और भविष्य में भी अस्थिर रह सकता है। निवेश करने से पहले अपनी जोखिम सहनशीलता और वित्तीय स्थिति पर विचार करना महत्वपूर्ण है।

यहां कुछ अन्य कारक हैं जो Yes Bank के शेयर को प्रभावित कर सकते हैं:

  • भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति
  • बैंकिंग क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा
  • Yes Bank का वित्तीय प्रदर्शन

निवेशकों को इन सभी कारकों पर विचार करना चाहिए और फिर कोई निर्णय लेना चाहिए।

यह भी पढ़े :

बाजार खुलते ही मुंह के बल गिरा Paytm Share, बेचने की मची है होड़, 19 फीसदी से ज्यादा लुढ़का

Reliance share price: रिलायंस के शेयर की कीमत रिकॉर्ड ऊंचाई पर, मार्केट कैप ₹19 लाख करोड़ के पार

HDFC Bank को बड़ा झटका, एक झटके में हुआ 100000 करोड़ रुपये का नुकसान जानें वजह…

तीसरी तिमाही के नतीजों के बाद Angel One share में 13% की गिरावट, क्या कहते हैं ‘मोतीलाल ओसवाल’

dharati moradiya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *