बहन करीना का यह फैसला नहीं था करिश्मा को बिल्कुल मंजूर, मनाने पर भी नहीं मानी थी बेबो

बहन करीना का यह फैसला नहीं था करिश्मा को बिल्कुल मंजूर, मनाने पर भी नहीं मानी थी बेबो

कपूर खानदान में यूं तो हर दौर में अपने यहां से सुपर स्टार दिए हैं। मगर कपूर खानदान की लड़कियां पहले कम ही फ़िल्मी दुनिया में कदम रखती थी। हालांकि अब समय बदल गया है, अब कपूर खानदान से कई अभिनेत्रियां निकल रही हैं। इन्हीं में से एक है बॉलीवुड की दिग्गज अदाकार करीना कपूर, जिनका आज जन्मदिन है। दरअसल आज करीना 41 साल की हो गयी हैं, ऐसे में उनके जीवन का आपको एक ऐसा किस्सा सुनाते हैं जो उन्होंने खुद सिमी ग्रेवाल के शो में सुनाया था। यह किस्सा उनके हावर्ड में पढ़ाई करने को ले कर है। तो आइए जानते हैं क्या था यह पूरा मामला –

बहुत से लोग होंगे जो यह भी नहीं जानते होंगे कि करीना कपूर भले ही कुछ समय के लिए सही मगर हावर्ड में पढ़ने गयी थी। जिस दौरान एक्ट्रेस का एडमिशन हुआ उस वक्त उनके परिवार वालों का क्या रिएक्शन था यह खुद अभिनेत्री ने सिमी ग्रेवाल के शो में बताया था। करीना ने इस दौरान बताया था कि हार्वर्ड मेरे लिए एक अच्छा समय और मस्ती करने के पल जैसा था।’ दरअसल करीना के अनुसार उनकी माँ और बहन करिश्मा नहीं चाहती थी कि वो तीन महीने के लिए हावर्ड में पढ़ने जाए। मगर अभिनेत्री तब तक अपना पक्का इरादा कर चुकी थी।

करीना ने हावर्ड में माइक्रो कंप्यूटर्स एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी पढ़ने के लिए फॉर्म भरा था, जिसमें उन्हें एडमिशन भी मिल गया था और वे वहां पढ़ने भी चली गयी थी। अभिनेत्री इस पर अपने घरवालों का रिएक्शन को याद करते हुए बताती है कि ‘वह पल मेरे लिए सबसे बड़ी उपलब्ध‍ि थी। सभी लोग ऐसे रिएक्ट कर रहे थे कि मेरी भतीजी, मेरी ये, मेरी वो…हार्वर्ड चली गई है। कपूर गर्ल, दिमाग है नहीं और हार्वर्ड गई हैं। वे सभी ओवर रिएक्ट कर रहे थे। किसी को यकीन नहीं हो रहा था कि मैं हार्वर्ड गई थी। उन्होंने इसका खूब जश्न मनाया।’

अभिनेत्री ने इस शो में यह भी बताया कि हावर्ड का पल उनके लिए कैसा बिता। उन्होंने बताया कि ‘मैं उसे कोई पार्टी नहीं कहूंगी। वो बहुत मुश्क‍िल था, मैं सुबह साढ़े 4 बजे उठती थी, फिर लाइब्रेरी जाती थी, अपने असाइनमेंट्स को पूरा करने की कोश‍िश करती थी।’ हालांकि करीना को जल्द ही इस बात का एहसास हो गया था कि वो पढ़ाई के लिए नहीं बस एक्टिंग के लिए बनी है। लिहाजा वे जल्द ही भारत आ गयी और सन 2000 में उन्होंने अभिनषेक बच्चन के साथ फ़िल्म रिफ्यूजी में डेब्यू किया था।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *