Ayodhya Ram Mandir: राम मंदिर का नाम सुनते ही क्यों भावुक हो गए अघोरी बाबा? गंगा आरती पर बोले ये शब्द…

Ayodhya Ram Mandir: राम मंदिर का नाम सुनते ही क्यों भावुक हो गए अघोरी बाबा? गंगा आरती पर बोले ये शब्द…

Ayodhya Ram Mandir: अघोरी बाबा एक प्रसिद्ध संत हैं। वह अपने अनोखे जीवन और रहन-सहन के लिए जाने जाते हैं। अघोरी बाबा अक्सर अपने भक्तों को राम मंदिर के बारे में बताते हैं। वे कहते हैं कि राम मंदिर हिंदू धर्म का एक पवित्र स्थल है। यह मंदिर भगवान राम को समर्पित है।

हाल ही में, एक पत्रकार ने अघोरी बाबा से राम मंदिर के बारे में बात की। पत्रकार ने पूछा कि राम मंदिर का नाम सुनते ही आप भावुक क्यों हो जाते हैं?

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

इसके जवाब में, अघोरी बाबा ने कहा, “राम मंदिर हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। यह मंदिर हमारे धर्म और संस्कृति का प्रतीक है। राम मंदिर हमारे लिए आशा और विश्वास का प्रतीक है।”

अघोरी बाबा ने आगे कहा, “मैंने कई वर्षों तक रामायण का अध्ययन किया है। मैंने रामायण में भगवान राम के जीवन और चरित्र को देखा है। भगवान राम एक आदर्श राजा और इंसान थे। उन्होंने अपने जीवन में हमेशा सत्य और धर्म का पालन किया।”

अघोरी बाबा ने कहा, “राम मंदिर का निर्माण हमारे लिए एक सपना है। यह सपना अब साकार हो रहा है।Ayodhya Ram Mandir मैं इस बात से बहुत खुश हूं कि राम मंदिर का निर्माण जल्द ही पूरा होने वाला है।”

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

अघोरी बाबा के भावुक उत्तर से यह स्पष्ट हो जाता है कि राम मंदिर उनके लिए कितना महत्वपूर्ण है। राम मंदिर उनके लिए एक आध्यात्मिक और सांस्कृतिक प्रतीक है।

Ayodhya Ram Mandir अघोरी बाबा के भावुक होने के पीछे कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं।

  • अघोरी बाबा खुद एक बहुत ही भावुक व्यक्ति हैं। वे किसी भी बात से आसानी से भावुक हो जाते हैं।
  • अघोरी बाबा को भगवान राम में बहुत आस्था है। वे भगवान राम को अपना आदर्श मानते हैं।
  • अघोरी बाबा का मानना ​​है कि राम मंदिर का निर्माण एक बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य है। यह मंदिर हिंदू धर्म और संस्कृति के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि होगी।

अघोरी बाबा के भावुक होने की घटना से पता चलता है कि राम मंदिर का निर्माण हिंदू धर्म के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण घटना है। यह मंदिर हिंदू धर्म के इतिहास में एक स्वर्णिम अध्याय होगा।

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

कुल मिलाकर, अघोरी बाबा के भावुक होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। लेकिन एक बात तो निश्चित है कि राम मंदिर उनके लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्थल है।

अघोरी बाबा के भावुक होने की एक घटना का वर्णन इस प्रकार है:

एक दिन अघोरी बाबा अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण स्थल पर मौजूद थे। उस दिन मंदिर के निर्माण में सोने के पत्तल जड़ने का काम शुरू हुआ था।

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

अघोरी बाबा इस काम को देखकर बहुत खुश हुए। वह सोच रहे थे कि आखिरकार राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है।Ayodhya Ram Mandir  तभी एक श्रद्धालु ने अघोरी बाबा से पूछा, “बाबा, आप क्यों रो रहे हैं?”

अघोरी बाबा ने कहा, “मैं राम मंदिर के नाम से रो रहा हूं। मुझे बहुत खुशी है कि राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है।”

श्रद्धालु ने कहा, “बाबा, आप तो अघोरी हैं। आप भगवान राम की मूर्ति भी नहीं पूजते हैं। फिर आप राम मंदिर के नाम से क्यों रो रहे हैं?”

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

अघोरी बाबा ने कहा, “मैं भगवान राम की मूर्ति नहीं पूजता, लेकिन मैं भगवान राम का भक्त हूं। मैं मानता हूं कि भगवान राम एक महान पुरुष थे। उन्होंने अपने जीवन में कई अच्छे काम किए थे।”

अघोरी बाबा ने आगे कहा, “मैं राम मंदिर के निर्माण को एक धार्मिक और सामाजिक आंदोलन मानता हूं। मैं मानता हूं कि राम मंदिर का निर्माण भारत में धार्मिक सद्भाव और शांति को बढ़ावा देगा।”

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

Ayodhya Ram Mandir अघोरी बाबा के भावुक होने की यह घटना बताती है कि राम मंदिर भारत के लिए एक महत्वपूर्ण प्रतीक है। यह मंदिर हिंदू धर्म के लिए एक उम्मीद का प्रतीक है।

यह भी पढ़े :

Ayodhya Mandir: राम मंदिर के भूतल और पहली मंजिल का काम पूरा, रामलला के सिंहासन को सोने से जड़ने का काम शुरू

Dhoom 4 : ‘Don 3’ नहीं तो क्या, ‘Dhoom 4’ में सच में आने वाले है शाहरुख खान? डिटेल हुई लीक

Kareena Kapoor : करीना कपूर ने वह लम्हा याद किया जब उन्हें सैफ से प्यार हुआ था..

Koffee With Karan 8: सैफ अली खान ने बताया की अपने बेटे इब्राहिम के लिए ऐसी चाहिए जीवनसाथी, उनकी एकमात्र खूबी यह है की…

dharati moradiya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *