Ayodhya Ram Mandir के दर्शन न कर पाएं, तो ऐसे करें पूजा, जानें शुभ मुहूर्त, सामग्री और पूजाविधि

Ayodhya Ram Mandir के दर्शन न कर पाएं, तो ऐसे करें पूजा, जानें शुभ मुहूर्त, सामग्री और पूजाविधि

Ayodhya Ram Mandir : अयोध्या राम मंदिर के उद्घाटन की तैयारियाँ तेजी से चल रही हैं। देश-दुनिया के हिंदुओं को भगवान श्रीराम की मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा का बेसब्री से इंतजार है। कल, अर्थात् 22 जनवरी 2024 को रामलला की मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा की जाएगी। प्राण-प्रतिष्ठा में पाषाण मूर्ति जिस भी देवी-देवता की होती है, वह भगवान बनकर भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं।

22 जनवरी को जब रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा हो जाएगी, तब भगवान श्रीराम की दिव्य शक्तियां मूर्ति में समाहित हो जाएंगी। अगर आप इस महत्वपूर्ण समय में अयोध्या राम मंदिर के दर्शन नहीं कर पाएंगे, तो आप घर पर ही आसानी से भगवान श्रीराम की पूजा-आराधना कर सकते हैं। चलिए, जानते हैं भगवान श्रीराम के पूजन का शुभ मुहूर्त, सामग्री और पूजन विधि…

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

22 जनवरी को अद्भुत संयोग: पंचांग के अनुसार, राम मंदिर के उद्घाटन के लिए यह दिन बेहद शुभ चुना गया है। 22 जनवरी को सर्वार्थ सिद्धि योग, अमृत सिद्धि योग, रवि योग और मृगशिरा नक्षत्र का दुर्लभ संयोग बन रहा है, जो अत्यंत शुभ है।

पूजा का शुभ मुहूर्त: राम मंदिर में भगवान श्रीराम की मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा के लिए दोपहर 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से लेकर 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड का शुभ मुहूर्त तय किया गया है।

Ayodhya Ram Mandir भगवान श्रीराम की पूजनविधि 

सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और फिर साफ कपड़े पहनें। मंदिर की सफाई करें। इसके बाद एक छोटी चौकी पर लाल या पीले वस्त्र बिछाएं। चौकी पर राम दरबार की मूर्ति स्थापित करें। इसके बाद मूर्ति पर गंगाजल छिड़काव करें। भगवान श्रीराम का पंचामृत या कच्चे दूध से अभिषेक करें। इसके बाद उन्हें फल, फूल, धूप-दीप और नेवैद्य अर्पित करें। इसके बाद रामचरितमानस, सुंदरकांड या राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करें। अंत में सभी देवताओं के साथ भगवान राम की आरती उतारें। इसके बाद लोगों के बीच प्रसाद बांटें और खुद भी सेवन करें।

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कितने बजे है?

प्रधानमंत्री राम मंदिर परिसर का दौरा सुबह 11 से 12 बजे के बीच किया जा सकता है। दोपहर 12:05 से 1 बजे के बीच प्राण-प्रतिष्ठा समारोह आरंभ होगा और मोदी अनुष्ठान की अध्यक्षता करेंगे। लगभग 1 बजे के करीब, मोदी मंदिर परिसर से प्रस्थान करके लगभग 7,000 लोगों की एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित करेंगे।

राम मंदिर अयोध्या को दान कैसे करें?

विभिन्न दान विधियां जैसे भुगतान गेटवे, यूपीआई, एनईएफटी, आईएमपीएस, डिमांड ड्राफ्ट और चेक भुगतान के साथ उपलब्ध हैं। दान करने के लिए, कोई भी व्यक्ति श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकता है और दान अनुभाग पर क्लिक कर सकता है।

Ayodhya Ram Mandir
Ayodhya Ram Mandir

भगवान राम को कैसे प्राप्त करें?

जो भी गृहस्थ कठिन मंत्रों का जप नहीं कर सकते, उन्हें भगवान राम की स्तुति ‘श्रीरामचन्द्र कृपालु भजु मन…’ का सस्वर गान करना चाहिए। राम नवमी के दिन भगवान श्रीराम के मंदिर में या उनके चित्र के सामने 3 बार अलग-अलग समय पर श्रीरामचन्द्र कृपालु भजु मन…, का पाठ करना चाहिए, इससे जीवन की हर चीजें अनुकूल होने लगती हैं।

यह भी पढ़े :

Pran Pratishtha : 500 साल का इंतजार खत्म, प्रभु आ रहे हैं, लाख दीयों से होने वाला श्रीराम का स्वागत

Ayodhya Ram Mandir: 22 जनवरी को घर से करें ये उपाय, आपके घर भी पधारेंगे श्री राम

Ayodhya Ram Mandir: Prana Pratishtha से पहले अयोध्या में भक्तों का जमावड़ा, दर्शन के लिए उमड़ी भीड़

Ayodhya Ram Mandir: प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां लगभग पूरी, फूलों से सजी रामनगरी अयोध्या

Nency Saliya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *