Dhruv Jurel: ड्रीम इंडिया कॉल-अप के बाद ध्रुव जुरेल ने बड़े खिलाड़ियों में अपनी जगह बनाई

Dhruv Jurel: ड्रीम इंडिया कॉल-अप के बाद ध्रुव जुरेल ने बड़े खिलाड़ियों में अपनी जगह बनाई

Dhruv Jurel: ध्रुव जुरेल ने एक युवा क्रिकेटर के रूप में कई चुनौतियों का सामना किया है। उनके पिता ने उन्हें क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्साहित किया, लेकिन उन्होंने एक सैनिक बनने की इच्छा रखी। जुरेल के पिता ने उनका समर्थन किया, लेकिन उन्होंने उन्हें क्रिकेट में अपना करियर बनाने के लिए भी प्रोत्साहित किया।

जुरेल ने अपने करियर की शुरुआत उत्तर प्रदेश के लिए अंडर-19 क्रिकेट खेलकर की। उन्होंने 2020 अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप में भारत की टीम में जगह बनाई। विश्व कप में, जुरेल ने 4 मैचों में 123 रन बनाए और 5 विकेट लिए।

Dhruv Jurel
Dhruv Jurel

Dhruv Jurel ने अपने प्रथम श्रेणी करियर की शुरुआत 2022 में उत्तर प्रदेश के लिए की। उन्होंने अपने पहले ही मैच में 100 रन बनाए। इसके बाद, उन्होंने लगातार रन बनाए और 2022 रणजी ट्रॉफी में उत्तर प्रदेश के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने।

जुरेल के शानदार प्रदर्शन ने उन्हें आईपीएल में जगह दिला दी। उन्हें 2022 आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स ने 20 लाख रुपये में खरीदा। आईपीएल में, जुरेल ने 13 मैचों में 152 रन बनाए और 3 विकेट लिए।

जुरेल के आईपीएल प्रदर्शन ने उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम में जगह दिला दी। उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ 2024 टेस्ट सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया।

जुरेल ने अपने पहले ही टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने पहले पारी में 63 रन बनाए और दूसरे पारी में 50 रन बनाए। जुरेल के प्रदर्शन की मदद से भारत ने इंग्लैंड को पहले टेस्ट मैच में 151 रन से हराया।

Dhruv Jurel
Dhruv Jurel

जुरेल के प्रदर्शन ने उन्हें दुनिया भर में ध्यान आकर्षित किया। कई लोगों ने उन्हें भारत के भविष्य के स्टार बल्लेबाजों में से एक बताया।

Dhruv Jurel ने अपने शुरुआती करियर में कई चुनौतियों का सामना किया है, लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी। उन्होंने कड़ी मेहनत और लगन से अपने सपने को साकार किया है।

जुरेल के लिए अब आगे बढ़ने का समय है। उन्हें आईपीएल और टेस्ट क्रिकेट में अपने प्रदर्शन को जारी रखने की जरूरत है। अगर वह ऐसा करते हैं, तो वह भारत के लिए एक प्रमुख बल्लेबाज बन सकते हैं।

जुरेल के सफल होने के पीछे कुछ प्रमुख कारक:

  • कड़ी मेहनत और लगन: जुरेल एक कड़ी मेहनती और लगन वाला खिलाड़ी है। वह हमेशा अपने खेल में सुधार करने के लिए काम करता है।
  • विश्वास: जुरेल अपने खेल में विश्वास रखता है। वह हमेशा अपने कौशल पर भरोसा करता है।
  • सपोर्ट सिस्टम: जुरेल के पास एक मजबूत सपोर्ट सिस्टम है। उनके माता-पिता और भाई-बहन हमेशा उनका समर्थन करते हैं।

जुरेल के लिए भविष्य की संभावनाएं:

Dhruv Jurel
Dhruv Jurel

जुरेल भारत के लिए एक प्रमुख बल्लेबाज बनने की क्षमता रखता है। वह एक शानदार स्ट्राइकर है और वह गेंदबाजों को धैर्यपूर्वक खेल सकता है। अगर वह अपने प्रदर्शन को जारी रखता है, तो वह भारत के लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी बन सकता है।

Dhruv Jurel के फौजी पिता का बेटा कैसे बन गया क्रिकेटर

Dhruv Jurel
Dhruv Jurel

ध्रुव जुरेल का पिता नेम सिंह जुरेल एक भारतीय सेना के अधिकारी हैं। वह एक कठोर अनुशासन के व्यक्ति हैं। उन्होंने ध्रुव को बचपन से ही अनुशासन और कड़ी मेहनत के महत्व को सिखाया।

ध्रुव ने अपने पिता से ही क्रिकेट खेलना सीखा। वह अपने पिता के साथ अक्सर क्रिकेट खेलते थे। उनके पिता ने उन्हें क्रिकेट के मूलभूत बातें सिखाईं।

ध्रुव के पिता ने उन्हें हमेशा अपने लक्ष्यों को हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने ध्रुव को बताया कि अगर वह कड़ी मेहनत करेगा तो वह कुछ भी हासिल कर सकता है।

Dhruv Jurel के पिता का समर्थन और प्रेरणा ही उन्हें एक सफल क्रिकेटर बनने में मदद की। ध्रुव अपने पिता के लिए बहुत सम्मान करते हैं और उन्हें अपना आदर्श मानते हैं।

यह भी पढ़े :

Bhuvneshwar Kumar ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में मचाया कोहराम, 6 साल बाद झटके पांच विकेट देखें वीडियो

IND vs ENG: ईशान किशन को फिर किया गया नजरअंदाज, Mohammed Shami और प्रसिद्ध कृष्णा को क्यों नहीं मिली जगह?

IND vs ENG : इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट के लिए भारत में Dhruv Jurel को किया शामिल, जानिए Ishan Kishan और Mohammed Shami को क्यों नहीं ?

Shubman Gill ने कराया रन आउट तो Rohit के गुस्से पर Ishan Kishan ने किया बड़ा खुलासा

dharati moradiya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *